Tuesday, September 28 2021

August 19, 2021

भारत का 2030 तक 2 ट्रिलियन डॉलर के निर्यात का लक्ष्य

नई दिल्ली – केंद्रीय मंत्री केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री श्री पीयूष गोयल ने निर्यातक समुदाय से वर्ष 2030 तक 1 ट्रिलियन डॉलर के वाणिज्यिक निर्यात और 1 ट्रिलियन के सेवा निर्यात सहित कुल 2 ट्रिलियन डॉलर के निर्यात के लक्ष्य पर काम करने के लिए कहा।श्री गोयल ने घोषणा की कि 1 ट्रिलियन डॉलर के सेवा निर्यात के लक्ष्य को हासिल करने के क्रम में वाणिज्य मंत्रालय में सेवा क्षेत्र पर केंद्रित दो अलग विभाग स्थापित किए जा रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि मुक्त व्यापार समझौतों (एफटीए) की रणनीति को फिर से लागू किया जा रहा है। उन्होंने कहा, “ज्यादा संवादात्मक प्रक्रिया में मुक्त व्यापार समझौते तैयार किए जा रहे हैं, हम यह सुनिश्चित करने के लिए उद्योग के साथ जुड़ रहे हैं कि एफटीए निष्पक्ष और समानता के साथ तैयार किए जाएं। साथ ही, एफटीए एकतरफा नहीं हो सकते, यदि हम विदेशी बाजारों में बड़ी हिस्सेदारी चाहते हैं तो हमें भी अपने बाजार खोलने की आवश्यकता है। इसलिए, हमें ऐसे क्षेत्रों की पहचान की आवश्यकता है, जहां हम प्रतिस्पर्धा में खड़े हो सकते हैं। यदि सामूहिक प्रयास के तौर पर हम ऐसे क्षेत्रों की पहचान कर सकें जहां हम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा में सक्षम हों तो हम तेजी से निष्पक्षता के साथ एफटीए तैयार कर सकते हैं।”

विभिन्न विकसित देशों के साथ एफटीए की प्रगति की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि यूके, ईयू, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, यूएई, इजरायल और जीसीसी देशों के साथ एफटीए के मामले में हमने काफी सकारात्मक प्रगति की है। “हमारा प्रयास ऐसे देशों पर ध्यान केंद्रित करना है, जहां हमारे पास पर्याप्त क्षमताएं हैं, जहां हम बेहतर प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं और जहां बाजार का आकार काफी बड़ा है।”